Friday, November 15, 2019

संत कंवर राम से एक महिला ने प्रार्थना की।

 इस प्रकार की एक घटना सिंध के कुंभल मन ग्राम में भजन सुनाते हुए हुई। 

भजन में हजारों की संख्या में हिंदू मुसलमान उपस्थित है वर्षा हो रही थी जिसके कारण लोग परेशान होने लगे एक जमींदार ने संत की शक्ति परखने के लिए हो रही वर्षा को बंद करने के लिए कहा संत जैसे ही सौरंगा ने लगे तो देखते ही देखते आसमान में बादल बिखरने लगे और आसमान साफ हो गया।
एक बार जैगुआर बात शेयर में भजन करते समय एक श्रद्धालु ने सा रंग रंग गाने का अनुरोध किया।

संत ने कहा भाई सारा रंग से वर्षा होगी वह आपको बहुत कष्ट होगा भोजन व्यवस्था चौपट हो जाएगी। 

श्रद्धालु ने अपना आग्रह नहीं छोड़ा इस पर संत ने सारा रात गाना प्रारंभ किया चारों ओर से उमड़ घुमड़ कर बादल आने लगे तभी मूसलाधार बारिश होने लगी लोगों ने प्रार्थना की और संत ने गाना बंद कर।
इस प्रकाश चंद के चमत्कारों से सिंध का संपूर्ण समाज उनसे अधिक प्रभावित होने लगा संत कंवर राम का व्यक्तित्व और कृतित्व जीवन में प्राण इस पद रहा है

उन्होंने अपना संपूर्ण जीवन गरीबों ऑफ आई जो वेब विधवाओं की सेवा में लगा दिया।

 नाथ और बेसहारा बालिकाओं की शादी करवाने के लिए जीवन पर्याप्त सार्थक प्रयास किया।
संत कंवर राम के इन्हीं भागीरथी प्रयासों का परिणाम है कि आज भी उनकी प्रेरणा से बड़ी संख्या में विद्यालय अस्पताल धर्मशाला विधवा में और अनाथ बालक बालिकाओं को शबनम देने के धर्मार्थ कार्य में हजारों लोग जुड़कर समाज उत्थान का कार्य करते हैं।
इस प्रकार संत कंवर राम का आज भी नाम है।

No comments:

Post a Comment