Tuesday, November 12, 2019

शहीदे आजम भगत सिंह।

शहीदे आजम भगत सिंह एक महान स्वतंत्रता सेनानी थे। 

भगत सिंह ने अपने क्रांतिकारी विचारों से आजादी की लड़ाई में शामिल युवाओं में जोश भर दिया था उन्होंने ब्रिटिश सरकार के विरोध में प्रदर्शन किया और ब्रिटिश पर बम फेंके।
इसके विरोध में ब्रिटिश सरकार ने उन्हें फांसी की सजा दी हुए शहीद जरूर हो गए परंतु भारत के लोगों के लिए अमर हो गए।

बचपन से ही भगत सिंह को पढ़ाई में बहुत ज्यादा रूचि थी वह अपनी कक्षा के सारे बच्चों में सबसे आगे रहते थे। 

भगत सिंह ने न केवल अपने साथियों के बीच बल्कि अध्यापकों में भी लोकप्रिय थे वे छात्रों के नेता थे उनका गुण देखकर ही कहा जा सकता था कि वह बड़े होकर व क्रांतिकारी बनेंगे भगत सिंह बड़ी आसानी से सबको अपना मित्र बना लेते थे एक बार भगत सिंह ने कपड़े सीना ने दिए बूढ़ा दर्जी जिसने उनके कपड़े सिले थे उनके घर आया और कपड़े दे गया कि मैंने उनसे पूछा वह कौन था तब उन्होंने जवाब दिया वह मेरा दोस्त था। 

बचपन से ही भगतसिंह लोगों का दिल जीत लेते थे। 

इसी आचरण के कारण ही बड़े होकर वह हजारों लोगों को आजादी की लड़ाई में शामिल होने के लिए प्रेरित करते रहे हम इस महान देशभक्त स्वतंत्रता सेनानी पर गर्व है अपने देश के लिए मर मिटने वाले शहीद का नाम इतिहास में सदैव अमर रहेगा।

No comments:

Post a Comment